DDLJ
25 साल पहले आई बॉलीवुड फिल्म 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' यानी DDLJ आज ही के दिन रीलीज़ हुई थी

जा सिमरन जी ले अपनी ज़िंदगी!… आपने ये डॉयलोग ट्विटर, फेसबुक आदि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मस पर ना देखा हो ऐसा हो ही नहीं सकता । 25 साल पहले आई बॉलीवुड फिल्म ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ यानी DDLJ आज ही के दिन रीलीज़ हुई थी। ऐसा मान जाता है कि यह हिन्दी फिल्म इंडस्ट्री की सबस रोमेंटिक फिल्म थी जो इस दौर के युवाओं की उतनी ही फेवरेट है जितनी 25 साल पहले के युवाओं की थी। एक्टर शाहरुख खान और कजोल की जोड़ी ने पर्दे पर ऐसा धमाल मचाया था की इस जोड़ी का जादू आज भी कायम है। इस फिल्म के डॉयलोग के मीम आज भी बनते हैं और सोशल मीडिया पर शेयर और पसंद किए जाते हैं।

DDLJ फिल्म की कहानी

फिल्म में शाहरुख खान ने राज मल्होत्रा का किरदार निभाया था जो बेहद शरारती लड़का रहता है और उटपटांग हरकते करता है। काजोल ने फिल्म में सिमरन का किरदार निभाया था फिल्म में सिमरन शादी से पहले अपने दोस्तों के साथ यूरोप जाना चाहती है, इसके लिए वो पिता से इजाज़त मांगती है पर यूरोप ट्रिप में सिमरन की मुलाक़ात राज से होती है जिस दौरान दोनो को एक-दूसरे से प्यार हो जाता है पर दोनों के लिए यह आसान नहीं हो पाता फिल्म की सारी कहानी इसी बात के इर्द-गिर्द घूमती है जिसका नरेशन इतना शानदार है कि वो देखने वालों को बांधे रखती है।

DDLJ की कमाई

20 अक्टूबर 1995 को रीलीज़ हुई इस फिल्म का क्रेज़ इतना था की यह मुंबई के मराठा मंदिर में 1,000 हफ़्ते तक यानी तकरीबन 20 साल तक चली । इस फिल्म ने 10 फ़िल्मफ़ेयर आवार्ड भी जीते। तकरीबन 4 करोड़ में बनी इस फ़िल्म ने कुल 102.50 करोड़ रुपये का कुल बिज़नेस किया था जो उस दौर में एक बहुत बड़ी कामयाबी थी। यह फिल्म ना सिर्फ भारत में बल्की विदेशों में भी खूब पसंद की गई।

कैसे पड़ा DDLJ पिल्म का नाम

फिल्म का नाम दिल वाले ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ इसके पीछे भी एक रोचक किस्सा है दरअसल इस नाम सुझाव अनुपम खेर की पत्नी किरण खेर ने दिया था। दरअसल जब आदित्य चोपड़ा को इस फिल्म के लिए कोई टाइटल समझ नहीं आ रहा था तो किरण खेर ने 1974 की फिल्म ‘चोर मचाए शोर’ के गाने ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ से ये टाइटल दिया था। इस बात का जिक्र यशराज फिल्मस की एक किताब में आदित्य चोपड़ा ने खुद किया है।

DDLJ करने के लिए नहीं मान रहे थे शाहरुख खान

इस फिल्म के लिए शाहरुख खान इतनी आसानी से नहीं माने थे मीडिया रिपरोट्स की मानें तो इस फिल्म को करने के लिए शाहुरुख खान के साथ आदित्य चोपड़ना 4 मीटिंग करनी पड़ी था ऐसा कहा जाता है कि अगर इस फिल्म के लिए शाहरुख नहीं मानते तो इसमें सैफ अली खान को लिया जाता।

फिल्म में एक गाना है ‘मेरे ख्वाबों में जो आए’ इस गाने के वीडियो में काजोल ने टॉवल डांस किया है जिसे खूब पसंद किया जाता है। लेकिन टॉवल डांस करने में काजोल थोड़ा हिचकिचा रही थी जिसके लिए मेकर्स को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी थी । इस बात को लेकर काजोल ने एक इंटरव्यू में कहा था की टॉवल में शूट करने का आईडिया उन्होंने पसंद नहीं आया था पर बाद में वो मान गई थी।

Leave a Reply