Donald Trump
Donald Trump

”माॉय फ्रेंड डोनाल्ड ट्रंप” के ये अल्फाज़ आपने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को कहते हुए सुना होगा वहीं पीएम मोदी (PM Modi) और डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) दोनों की दोस्ती का इज़हार भी बड़े-बड़े मंचों पर कई तरीके से देखा होगा जिसके जरिए पूरे विश्व को ये बताने की कोशिश हुई की विश्व के दो बड़े देश के लीड़रों के रिश्तें कितने मज़बूत हैं। फिर चाहे बात ”नमस्ते ट्रंप” (Namaste Trump) वाली हो या ”हावडी मोदी” (Howdy modi) की। हर मौके पर झप्पियां पाते इन दोनों के रिश्तों के बीच एक खटास नज़र आई है जिसमें कई मौके पर ट्रंप ने मोदी से दगा किया है।

Donald Trump ने भारत के बारे में क्या कहा ?

हाल ही में हुई ”प्रेसिडेंशियल डिबेट” (Presidential Debates) में अमरीका के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवारों की बहस में ट्रंप ने प्रधानमंत्री मोदी के स्वच्छता मिशन की धज्जियां उड़ा दी। बहस के दौरान ट्रंप ने कहा कि भारत की हवा खराब है। जब बहस का मुद्दा जलवायु परिवर्तन का था तो ट्रंप ने कहा कि , “चीन, रूस और भारत को देखो, इनकी हवा कितनी ख़राब है” जिसके बाद सोशल मीडिया पर लोगों की प्रतिक्रिया आने लगी जिसमें मोदी और ट्रंप की दोस्ती पर सवाल खड़े होने लगे जिसमें कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने ट्वीट कर सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि यह मित्रता का फिल है उन्होंने कहा कि ये सब ‘हाउडी मोदी’ का नतीजा है।

कई मौकों पर दिखा Donald Trump का भारत के प्रति सख्त रूख

वहीं इसस पहले जब अप्रैल के महीनें में अमेरिका में कोरोना के मामले तेज़ी से बढ़ रहे थे तब डोनाल्ड ट्रंप ने भारत को चेतावनी देते हुए कहा था कि यदि उसने अमेरिका को हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की दवा की आपूर्ति नहीं की तो भारत के ख़िलाफ़ बदले की कार्रवाई की जाएगी। वहीं ट्रंप भारत पर सवाल खड़े करते हुए ये कह चुके हैं कि भारत कोरोना से होने वाली मौतों के सही आंकड़े नहीं बताता।

ट्रंप का भारत के प्रति ये रवाया बतलाता है कि ट्रंप की ये दिखावे की दोस्ती आने वाले समय में भारत को कितनी भारी पड़ती है वहीं इससे एक बात और साफ होती है कि भारत का ट्रंप पर भरोसा करना कितना खतरनाक हो सकता है जिसमें अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर खासा असर पड़ सकता है।

-अंकुर मौर्या

Leave a Reply